Manpasand Shadi Karne Ke Upay मनपसंद लड़के से शादी करने के उपाय

Manpasand shadi karne ke upay | मनपसंद लड़के से शादी करने के उपाय

Manpasand shadi karne ke upay | मनपसंद लड़के से शादी करने के उपाय , ” Yadi Aap Kisi Se Prem Karte Hai Aur Us Ke Saath Saat Pheron Mein Bandhkar Apna Jeevan Bitaana Chaahate Hai, Parantu Paarivaarik, Dhaarmik, Saamaajik Ya Aarthik Aadi Prakaar Ke Gatirodh Baadhak Ban Rahen Hai ? Aisi Sthiti Mein Is Prakaar Ke Upaay Bataaye Ja Rahen Hai, Jinhe Apanaakar Aap-Apni Manpasand Ladki Se Vivaah Karne Mein Saphal Honge.

Manpasand shadi karne ke upay | मनपसंद लड़के से शादी करने के उपाय

विवाह योग्य उम्र होते ही युवाओं का मन विपरीत लिंग के प्रति आकर्षित होने लगता है। मन चंचल होता है, इसलिए इसे काबू में रख पाना युवा उम्र में थोड़ा मुश्किल होता है। आंखे हर अच्छी चीज के प्रति आकर्षित होती है। लेकिन आंखों के रास्ते से जो चीज दिल में उतर जाती है उससे प्रेम हो जाता है।

प्रेम की शुरूआत आकर्षण से होती है, किन्तु आकर्षण जब समर्पण का रूप धारण कर लें तब परिणय सूत्र में बंधना लाजिमी हो जाता है। जब तक जाति, धर्म व परम्परायें रूढि़वादिता की जंजीरों में जकड़ी है तब-तक कोई प्रेम क्यों करेगा और करेगा भी तो समाज की वक्र दृष्टि से अछूता नहीं रह पायेगा।

Manpasand shadi karne ke upay | मनपसंद लड़के से शादी करने के उपाय

आप अपने मनपसंद साथी के साथ विवाह बंधन में बंधना चाह रहे हैं और तमाम मुश्किलें आपके सामने खड़ी हैं तो अपनाइए कुछ खास उपाय। इन उपायों से आप अपने वेलेंटाइन के साथ बिना किसी बाधा के शादी के बंधन में बंध सकेंगे। ‍नीचे दिए गए मंत्रों को इच्छुक लड़की 91 दिन घी का दीपक लगाकर जप करें। दुर्गा जी का ध्यान कर 5 माला प्रतिदिन जपें। मां भगवती के आशीर्वाद से आपका अपने वेलेंटाइन से शीघ्र विवाह हो जाएगा।

मंत्र :

1- हे देवि कात्यायनी यथा त्वं शंकरप्रिया।
तथा माम कुरु कल्याणी, कान्त कान्तां सुदुर्लभाम।।

2- कात्यायनी महामाया, महायोगीन्यधीश्वरी
नंद गोप सुतं देहि पति में कुरु ते नम:।।

Manpasand Shadi Karne Ke Upay

दूसरा उपाय : शनिवार के दिन सुंदरकांड का पाठ करें। सरसों या तिल्ली के तेल का ही दीपक लगाएं।

तीसरा उपाय : माह की प्रत्येक प्रदोष तिथि को मां पार्वती का श्रृंगार कर विधिवत पूजन करें। तीन रत्ती से अधिक का जरकन, हीरे या पुखराज की अंगूठी अनामिका में शुभ मुहूर्त में विधिवत धारण करें।

मां पार्वती की विधिवत पूजा करके प्रतिदिन मंत्र की पांच माला का जाप करने पर मनोरथ शीघ्र पूर्ण होता है।
कात्यायनी महामाया, महायोगीन्यधीश्वरी नंद गोप सुतं देहि पति में कुरु ते नम:।।

चौथा उपाय : विवाह के लिए गुरु आराध्य है तथा प्रेम के लिए मंगल और शुक्र को मनाएं।

मनपसंद लड़के से शादी करने के उपाय

Totke for love marriage easily

Love marriage tips

If you need any help of guru ji then you can contact him.

More Information about our guru ji.

Name :- Manoj Sharma

Contact Number :- +91-9950420009

E-MAIL US :- premvivahsolution@gmail.com

Shadi na hone ke karan aur upay | Lal kitab ke upay for early marriage

Shadi na hone ke karan aur upay | Lal kitab ke upay for early marriage

Shadi na hone ke karan aur upay | Lal kitab ke upay for early marriage, ” Agar Aapka Beta Ya Beti Sarvgun Sampann Hai Fir Bhi Unki Shaadi Nhi Ho Pa Rahi Hai To Iska Karan Ho Sakta Hai Kundali Me Garho Ka Dosh. Akshar Esa Hota Hai Ki Har Tarah Se Yogya Hote Hue Bhi Santaan Ki Shaadi Nhi Ho Paati Hai. Agar Kundali Me Saptam Bhaav Ke Sawami Ki Sthiti Aachi Na Ho Kundali Mein To Aisa Hota Hai Ki Chaahakar Bhi Ve Shaadi Vivaah Se Vanchit Rah Jaate Hain. Shadi Na Hone Ke Karan Aur Upay

इसका कारण और निवारण इस प्रकार है

1. अगर किसी का बृहस्पति वृषभ लग्न का होकर लग्न में बैठ जाए और चन्द्रमा नीच का होकर सप्तम भाव में बैठ जाए और लग्नेश छठे भाव में राहु या सूर्य के साथ बैठ जाए तो शादी बहुत विलंब से होती है।

Shadi na hone ke karan aur upay | Lal kitab ke upay for early marriage

निवारण : ऐसे जातक को लग्नेश का रत्न धारण करना चाहिए और सप्तमेश के देवता की पूजा करनी चाहिए या ऐसे जातक सदैव मां दुर्गा की पूजा-स्तुति करें और अपने माता की सेवा करें और उनका कहा मानें।

2. अगर किसी भी जातक की कुंडली में सप्तम भाव के स्वामी अपने भाव से अष्टम बैठ जाएं या राहु और सूर्य की स्थिति सप्तम भाव में हो तो शादी में बहुत अड़चन आती हैं।

निवारण : इस स्थिति में भगवान सूर्य की पूजा और आदित्य हृदय स्तोत्र का पाठ करना चाहिए और नित्य मस्तक पर लाल तिलक धारण करना चाहिए।

3. अगर किसी की कुंडली में पितृदोष हो या नवम भाव में राहु, सूर्य और बृहस्पति की युति हो तो ऐसे जातक की शादी में बहुत अड़चनें आती हैं और शादी हो भी जाए तो उसके बाद भी अड़चनें आती हैं।

Shadi na hone ke karan aur upay | Lal kitab ke upay for early marriage

निवारण : ऐसे जातक को हमेशा भगवान शिव पर दूध से अभिषेक करना चाहिए और गुरु मंत्र लेकर उस मंत्र का जाप अवश्य करें।

4. कुंडली में अगर शुक्र मीन राशि के होकर बुध के साथ सप्तम भाव में बैठे हों और अष्टम भाव में शनि हो तो ऐसे जातक की शादी हमेशा टूटती रहती है और कई बार देखा गया है कि ऐसा जातक कुंआरा भी रह जाता है।

निवारण : ऐसे जातक को हमेशा भगवान गणपति की स्तुति कर हीरा और पन्ना धारण करना चाहिए और वे हमेशा स्त्रियों के प्रति आदरभाव की भावना रखें।

5. कुंडली में राहु, बृहस्पति और शनि का योग लग्न में हो जाए तो शादी में बहुत विलंब होता है और बहुत अड़चन भी आती हैं।

निवारण : ऐसे जातक को हमेशा अपने मां-बाप की मर्जी से शादी करनी चाहिए और भगवान विष्णु की पूजा और विष्णु सहस्रनाम का पाठ करने से लाभ मिलता है और हल्दी का तिलक करना इनके लिए शुभकारी होता है।

शादी न होने के कारण और उपाय

Shadi na hone ke karan aur upay | Lal kitab ke upay for early marriage

6. कुंडली में लग्न में सूर्य अकेले बैठा तो और उस पर किसी अच्छे ग्रह की दृष्टि न हो तो भी शादी में अड़चन आती हैं।

निवारण : ऐसे जातक को नित्य सूर्य दर्शन करना चाहिए और वे सूर्य को जल दें। साथ ही साथ वे बद्रीनाथ जाकर उनको तुलसी की माला अर्पित कर ब्राह्मणों को दान दें। इससे लाभ होता है।

7. कुंडली में दूसरे भाव में राहु और बृहस्पति का योग और सप्तम भाव में सूर्य अकेले बैठे हों तो शादी नहीं होने देते हैं।

निवारण : ऐसे जातक को बृहस्पतिवार के दिन पीपल के पेड़ के नीचे घी का दीया सुबह के समय प्रज्वलित करना चाहिए और गाय की सेवा करनी चाहिए।

इनके अतिरिक्त जिनकी कुंडली नहीं है या नहीं मालूम है, ऐसे लोगों को शादी-विवाह में अड़चन आ रही हो तो एक सामान्य उपाय अवश्य करें।

निवारण : हमेशा आप भगवान शिव पर गंगा जल, दूध, घी, शहद और केसर की दाल और बेलपत्र चढ़ाएं और अपने घर में किसी भी योग्य विद्वान से मिलकर भोजपत्र पर कात्यायनी यंत्र बनवाकर अपने घर में रखें और नित्य उसकी पूजा कर माथे पर केसर और हल्दी का तिलक लगाएं। शादी से संबंधित समस्या समाप्त होगी।

ऐसे जातकों को नित्य अपने घर में घी का दिया प्रज्वलित करना चाहिए और अगर कुंडली है तो योग्य ज्योतिषी को कुंडली दिखाकर उचित उपाय करवाया जा सकता है।

Love marriage specialist

Love guru astrologer

More Information about our guru ji.

Name :- Manoj Sharma

Contact Number :- +91-9540520009

E-MAIL US :- premvivahsolution@gmail.com