Navratri Me Pooja Karne Ki Vidhi

Navratri Me Pooja Karne Ki Vidhi , ” Shardiya Navratri Ashvin Maas Me Sukal Paksh Me Aate Hai Aur Is Baar Inki Suruaat 21 September Se Ho Rahi Hai. Pehle Din Se Hi Maa Bhawani Apne Bhakto Ko In 9 Dino Me Sewa Se Khush Hokar Man Icha Fal Ki Parapti Ka Aashrivachan Deti Hai. Maa Parvati Ke 9 Avtar Ke Liye No Dino Aur Inka Vishesh Mehtav Hota Hai. Pooja Karne Ke Liye Sabse Acha Mahurat Aur Pooja Vidhi Ke Sath Kya Karna Chahiye Ye Sab Hum Aapko Batane Ja Rahe Hai.

Navratri Me Pooja Karne Ki Vidhi

नौ देवी और नौ रातों का समूह नवरात्री की शुरूआत अश्विन माह के शुक्ल पक्ष एकम (तारीख) 21 सितंबर से हो रही है। ये नौ दिन मां पार्वती के नौ रूपों की पूजा की जाती है। अश्विन माह के शुक्ल पक्ष में आने वाले नवरात्रे शारदीय नवरात्र होते हैं। नवरात्रों की पूजा की शुरूआत सनातन काल से हुई थी जिसका शास्त्रों में उल्लेख है। मर्यादा पुरुषोत्तम रामचंद्र भगवान ने समुंद्र के किनारे नौ दिन तक मां दुर्गा का पूजन किया था इसके बाद लंका लंका विजय की ओर निकले।

दसवें दिन रावण दहन के साथ दशहरा मनाया जाता है। और नवरात्री का उल्लेख इसी रामायण में अहिरावण द्वारा भी माँ दुर्गा की पूजा करने और हनुमान द्वारा खंडित करने का वर्णन किया गया है। इस बार शारदीय नवरात्रि पर घट स्थापना का शुभ मुहूर्त सुबह 6 बजे से 8 बजकर 22 मिनट तक होगा। अभिजीत मुर्हूत 11.36 से 12.24 बजे तक जो इस दिन का श्रेष्ठ मुहूर्त है।

पूजा विधि

मां दुर्गा की पूजा में घट स्थापना और पूजा में जिन जरुरी चीजों की आपको जरूरत रहेगी , उसकी खरीदारी जितनी जल्दी हो सके आज ही कर लें। क्योंकि 21 सितंबर को ही नवरात्र‍ि का शुभारंभ हो रहा है और कलश स्थापना का सबसे शुभ मुहूर्त सुबह जल्द का है।

पूजा सामग्री

लाल रंग का आसन माता की फोटो या मूर्ति के लिए

लाल रंग मां दुर्गा का सबसे प्यारा रंग माना जाता है। पूजा शुरू करने से पहले बिछाया जाने वाला आसन में लाल रंग के कपड़े का इस्तेमाल किया जाए। इसके अलावा मां को लाल चुनरी और कुमकुम का टीका लगाना भी बहुत शुभ माना जाता है।

– मिट्टी का पात्र (कलश) और जौ (साबुत)
– साफ की हुई बालू मिट्टी
– जल से भरा हुआ मिट्टी का कलश
– लाल सूत्र, लौंग, कपूर, मौली, इलाइची,रोली
– साबुत सुपारी, साबुत चावल और खुल्ले सिक्के
– आम के हरे पांच पत्ते
– मिट्टी का ढक्कन (कलश के लिए)
– लाल कपड़ा और लाल चुनरी, सिंदूर
– फूल और ताज़ा फूलों की माला

लाल चुनरी के साथ ये भी होने जरुरी

मां पार्वती को सिर्फ लाल चुनरी अकेली कभी ना चढ़ाएं. चुनरी के साथ में सिंदूर, नारियल, पंचमेवा, मिठाइयां, फल और सुहागन औरत के काम में लिए जाने वाला सामान चढ़ाने से मां जल्द ही खुश होती हैं और मन चाहा आर्शीवाद देती है. मां दुर्गा की चूड़ी, बिछिया, सिंदूर, मेहंदी, बिंदी, काजल अवश्य लगाने चाहिए.

अखंड ज्योति के लिए

अखंड ज्योति जलाने के लिए पीतल या मिट्टी का दीपक साफ कर ले और जोत के लिए रूई की बड़ी बत्ती, रोली, चावल जरूर रखें।

हवन के लिए

हवन कुंड, लौंग का जोड़ा, कपूर, सुपारी, गुग्ल, लोबान, घी, पांच मेवा, चावल, हवन पुडा, तिल आदि हवन सामग्री

अपनाएं ये हेल्थ टिप्‍स और नवरात्री 2017 व्रत में रहें फिट

कुछ भक्‍त बिना पानी के व्रत रखते हैं। वे पूरे दिन बिना खाएं और पिए रहते है। कुछ लोग दिन में एक बार भोजन लेते हैं और खाने की कुछ चीजों को तो हाथ भी नहीं लगाते। हिंदु धर्म में नवरात्र‍ियों में राजसिक और तामसी भोजन से दूर रहकर सिर्फ सात्‍विक आहार करने की सलाह दी जाती है.

अनुकूल रंग

  1. नवरात्रि के पहले दिन शैलपुत्री की पूजा में पीले रंग के कपड़े पहनें यह रंग शुभ होता है।
  2. नवरात्रि के दूसरे दिन मां ब्रह्राचारिणी की पूजा होती है इस पूजा में हरे रंग के कपड़े पहनें।
  3. तीसरे दिन मां चंद्रघंटा की पूजा होती है इस दिन ग्रे रंग के कपड़े मां दुर्गा को खुश कर सकते हैं।
  4. नवरात्रि के चौथे दिन कूष्मांडा की पूजा की होती है इस दिन आप ऑरेंज रंग के कपड़े पहन सकते है।
  5. पांचवे दिन नवरात्रि पर मां स्कंदमाता की पूजा होती है. इस दिन सफेद रंग पहनना बहुत शुभ माना जाता है।
  6. छठे दिन नवरात्रि पर मां कात्यानी की पूजा की जाती है। लाल रंग बहुत शुभ माना जाता है।
  7. नवरात्रि के सातवें दिन पर कालरात्रि की पूजा होती है। इस दिन नीला रंग पहनना शुभ होता है।
  8. नवरात्रि के आठवें दिन महागौरी की पूजा होती है इस दिन गुलाबी रंग शुभ होता है।
  9. नौवे दिन नवरात्रि के समाप्ति वाले दिन पर मां सिद्दात्री क पूजा की जाती है। इस दिन बैंगनी रंग पहनना बहुत ही शुभ माना जाता है।

नवरात्री में किसी भी प्रकार के गलत कार्य से बचें और माँ से प्रार्थना करें हम जो भी कार्य करें वो मनुष्य जिव जंतु और समस्त प्राणी जगत के हित में हो। और माँ दुर्गा उन्हें इतनी शक्ति दे जिससे वे हमेशा दूसरों की भलाई करें।

ALL PROBLEM SOLUTION

ANY PROBLEM CALL….

Maharaj ji +91-9950420009

 

  • Puja niyam
  • Dainik puja vidhi hindi
  • Roj puja kaise kare
  • Puja karne ki vidhi bataye
  • Puja karne ka sahi time
  • Nitya pooja vidhi in hindi
  • Pooja Karne Ki Vidhi
  • Navratri Me Pooja Karne Ki Vidhi
  • Pooja ke niyam in hindi
  • Pooja ka sahi samay